Exam mein Pass Hone ki Dua

Imtihan me Pass Hone ki Dua & Wazifa

हर एक माँ बाप का सपना होता है की उनका बचा पढ़ लिख कर बड़ा अफसर या काबिल इंसान बने| लेकिन कुछ बच्चो का मन पढ़ाई में नहीं लगता है, ऐसे बच्चो के माँ बाप अपने बच्चे के भविष्य को लेकर बहुत ज्यादा परेशान रहते है| हालाँकि किसी भी इंसान के लिए पढ़ा लिखा होना बहुत ज्यादा जरुरी है, अगर आपके बच्चे का दिल पढ़ाई में नहीं लगता है या आपका बच्चा पड़ने लिखने में कमजोर है तो हमारा यह लेख आपके लिए फायदेमंद साबित होगा| आज हम अपने इस लेख में एग्जाम में पास होने की दुआ – Exam mein Pass Hone ki Dua और बच्चो का दिल में पढ़ाई में दिल लगाने की दुआ के बारे में जानकारी दे रहे है लेकिन हमारे द्वारा बताई जा रही दुआ के साथ साथ आपकी मेहनत भी बहुत ज्यादा जरुरी है| आप ऐसे भी समझ सकते है की एग्जाम में पास होने के लिए आपको मेहनत और दुआ दोनों की जरुरत है, खाली दुआ के भरोसे एग्जाम में पास नहीं हुआ जा सकता है|

Exam me Pass Hone ki Dua

अगर किसी भी माँ बाप का बच्चा नहीं पढ़ता है तो माँ बाप के अरमान टूट जाते है, आज के समय में काफी सारे इंसान अपने बच्चो का पढ़ाई में दिल लगाने के लिए अलग अलग उपाए अपनाते है, कुछ दवाओं का सहारा भी लेते है और कुछ दुआओ का सहारा लेते है| यह तो हर इंसान को पता होता है की इंसान का जीवन खुदा की दें और हमारी जिंदगी में आने वाली सभी परेशानी भी खुदा की दें है तो उन परेशानियो को ख़त्म भी खुदा करता है| किसी भी तरह के एग्जाम चाहे वो स्कूल की परीक्षा हो या कॉलेज का इम्तिहान हो या किसी भी कॉम्पिटिशन का एग्जाम हो सभी के लिए सबसे पहले आपको दिल लगाकार पढ़ाई करना जरुरी है उसके साथ हमे खुदा से भी दुआ मांगनी चाहिए की वो हमे एग्जाम में पास कराएं|

अगर आप मन से पढ़ाई करते है और सच्चे दिल से खुदा की इबादत करके एग्जाम में पास होने की दुआ – Exam mein Pass Hone ki Dua पढ़ते है तो खुदा आपको एग्जाम में कामयाबी जरूर दिलाता है| चलिए अब हम आपको एग्जाम में पास होने की दुआ (exam me pass hone ki dua in hindi) के साथ साथ बच्चो की याददाश्त बढ़ाने का वजीफा और बच्चे का दिल पढ़ाई में लगने का वजीफा के बारे में बता रहे है

बच्चे की याददाश्त बढ़ाने का तरीका 

अगर आपका बच्चा पढ़ाई अच्छे से करता है लेकिन बार याद करने के बाद भी कुछ याद नहीं रहता है तो इस तरह की परेशानी को याददाश्त कमजोर होना या हाफ़िज़ा कमज़ोर होना कहा जाता है| आमतौर पर यह परेशानी बच्चो में काफी ज्यादा देखने को मिलती है, हालाँकि यह परेशानी बच्चो या बढो दोनों में देखने को मिलती है| काफी सारे माँ बाप अपने बच्चो की याददाश्त बढ़ाने के लिए दवा का सहारा भी लेते है, लेकिन हम आपको सलाह देंगे की अपने बच्चो को दवा का सेवन ना कराएं तो बेहतर होगा, दवा की जगह नीचे बताए जा रहे वजीफे को अपनाएं इंशाअल्लाह बहुत जल्द आपको अपने बच्चे की याददाश्त में फर्क दिखाई देने लगेगा| सबसे पहले फज़र की नमाज पढ़ लें उसके बाद तीन मर्तबा अव्वल आखिर दरूद शरीफ पढ़ लें उसके बाद तीन मर्तबा *रब्बि यस्सिर वला तु आस्सिर * पढ़कर पानी पर दम कर लें| उसके बाद इस दम किए हुए पानी को नहार मुँह यानी सुबह उठते ही सबसे पहले इस दम हुए पानी को पीला दें| रोजाना इस दम किए हुए पानी को पिलाने से बहुत जल्द इंशाअल्लाह बच्चे की याददाश्त बेहतर हो जाती है|

पढ़ाई में दिल लगाने की दुआ | Dimag Tez Karne Ki dua

जिन बच्चो की याददाश्त कमजोर होती है उनकी याददाश्त बढ़ाने का तरीका आपने ऊपर पढ़ा, लेकिन कुछ बच्चे ऐसे होते है जिनका मन पढ़ाई में बिलकुल भी नहीं लगता है| माँ बाप से लेकर टीचर तक सभी उन्हें पड़ने के लिए बोलते बोलते थक जाते है लेकिन बच्चे पढ़ने को तैयार नहीं होते है, इसके पीछे की वजह बच्चो का पढ़ाई में दिल नहीं लगना होता है| अगर आपके बच्चे का दिल पढ़ाई में नहीं लग रहा है है तो आज हम आपको imtihan mein pass hone ka wazifa बता रहे है जिसे अमल करने से इंशाअल्लाह बहुत जल्द आपके बच्चे का मन पढ़ाई में लगने लगेगा| रात में जब आपका बच्चा गहरी नींद में सो जाएं तब उसके पास जानकर सबसे पहले उसके सिरहाने पर बैठ जाएं फिर बिस्मिल्लाह * व लकद यस्सरनल क़ुरआना लिज़िकरि फहल मिम्मु  ददक्किर* को पढ़ें, ख्याल रखें पढ़ाई में मन लगाने की इस दुआ को धीमी आवाज में पढ़ें, तेज आवाज से आपके बच्चे की नींद खराब हो सकती है उसके बाद तीन मर्तबा दरूद शरीफ पढ़ लें| हालाँकि इस इलाज की मुद्दत एक महीना बताई गई है लेकिन खुदा ने चाहा तो आपको जल्द असर दिखाई देने लगता है|

इम्तिहान में कामयाबी का वज़ीफ़ा – Imtihan Mein Kamyabi Ki Dua

एग्जाम में पास होने की दुआ (exam me pass hone ki dua) से पहले हम आपको इम्तिहान में में कामयाब होने के वजीफे के बारे में जानकारी दे रहे है| इम्तिहान में कामयाबी पाने के लिए सबसे पहले ईशा की नमाज़ से पहले ग्यारह बार और बाद में ग्यारह बार दरूद शरीफ पढ़ें, फिर तीन सौ बार अल मलिक़ुल क़ुद्दूसु अलमलिक़ुल क़ुद्दूसु पढ़ कर साफ़ और पाक दिल से अल्लाह ताला से कामयाब होने की दुआ करें| इम्तिहान में कामयाबी पाने के वजीफे को इम्तिहान या एग्जाम का रिजल्ट आने तक रोजाना करने से इंशाल्लाह कामयाबी जल्द मिलेगी|

एग्जाम में पास होने की दुआ (exam me pass hone ki dua in hindi)

ऊपर आपने इम्तिहान में कामयाब होने का वजीफा के बारे जाना अब हम आपको एग्जाम में पास होने की दुआ (exam me pass hone ki dua) के बारे में जानकारी दे रहे है| नीचे हम आपको एग्जाम में पास होने की दो दुआ बताने जा रहे है, इन दुआओ को साफ़ और पाक दिल से पढ़ने से अल्लाह ताला आपको पास करा देता है| एग्जाम में जाने से पहले आपको पाक साफ़ मन से बिस्मिल्लाह पढ़ना है उसके बाद “फईन्न हसबकल्लाहु। हुव्वल लझि अय्यदक। बिनस्रिही वबिल मुअमिनीन” इस दुआ को सात बा पढ़ने के बाद एग्जाम देने जाएं| एग्जाम रूम में पहुँचने के बाद सबसे पहले दुआ – रब्बिस रहलि सदऱि वयस्सिरली अमरी, वहलुल उक्दतम मिल्ली’ सानि, यफकहु कौल पढ़ें फिर तीन बार सुरहे अलम नस्रह पढ कर एग्जाम दें| इंशाल्लाह आप जरूर पास हो जाएंगे|

हम उम्मीद करते है की आपको हमारे लेख एग्जाम में पास होने की दुआ (exam mein pass hone ki dua in hindi) में दी जानकारी पसंद आई होगी, हमारे इस लेख को अधिक से अधिक शेयर करें जिससे यह उन बच्चो के माँ बाप तक पहुँच जाएं जिनके बच्चे पढ़ने में कमजोर है या बच्चो का मन पढ़ाई में नहीं लगता है|

होम पेज यहाँ क्लिक करें

Also Read: 

Leave a Comment