Salatut Tasbih Namaaz ka Tarika in Hindi – सलातुत तस्बीह नमाज़

Salatut Tasbih Namaaz ka tarika- सलातुत तस्बीह नमाज़ का तरीका

सलातुत तस्बीह एक नफिल नमाज़ है, यह पांच वक़्त की नमाज़ में शामिल नहीं है. लेकिन फिर भी Salatut Tasbih की बहुत फ़ज़ीलत है यह एक बहुत ही खास नमाज़ है। Salatut Tasbih को हज़रत मोहम्मद साहब ने अपने चचा हज़रत अब्बास को तालीम देते हुए फ़रमाया था की ,इसको पढ़ने से हम सब के तमाम गुनाह माफ़ हो जाते है. इस लिए इसे हर रोज़ पढ़ा करे, अगर मुमकिन न होतो हफ्ते में एक बार ज़रूर पढ़ लिया करे. इस पोस्ट में हमने Salatut Tasbih Namaaz ka Tarika in Hindi – सलातुत तस्बीह नमाज़ का तरीका हिंदी में बहुत ही खूबसूरत तरीके से पेश किया है उम्मीद है की आपको हमारी इस पोस्ट से पूरी जानकारी मिलेगी.

Salatut Tasbih Namaaz ka tarika

Salatut Tasbih in Hindi – सलातुत तस्बीह इन हिंदी

सुबहानल्लाहि वलहमदुलिल्लाहि वलाइलाहा इल्लललाहु वल्लाहु अकबर लाहउला वलाकुवत्ता इल्लाविल्लाहिल अलिय्यिल अजीम.

(Salatut Tasbih Namaaz ka tarika) सलातुत तस्बीह नमाज़ कैसे पढ़े?

इस नमाज़ को चार रकाअत में पढ़ा जाता है

पहली रकात Salatut Tasbih Namaaz ka Tarika in Hindi 

  1. सबसे पहले सलातुत तस्बीह नमाज़ की नियत करना होगा।
  2. फिर सना पढ़े
  3. फिर सलातुत तस्बीह 15 बार पढ़े “सुबहानल्लाहि वलहमदुलिल्लाहि वलाइलाहा इल्लललाहु वल्लाहु अकबर लाहउला वलाकुवत्ता इल्लाविल्लाहिल अलिय्यिल अजीम”
  4. फिर सूरेह फातिहा पढ़े साथ में दूसरी कोई भी सूरेह पढ़े
  5. सूरेह मिलाने के बाद 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  6. रुकू में जाए और 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  7. इसके बाद “सुबहाना रब्बियल अज़ीम” 3 बार पढ़े
  8. अब रुकू से उठ कर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  9. फिर अल्लाह हु अक्बर कह कर सजदे में चले जाए
  10. फिर सजदे में 3 बार कहे “सुब्हान रब्बि यल आला
  11. फिर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े

दूसरी रकात Salatut Tasbih Namaaz ka Tarika in Hindi

  1. दूसरी रकात में आने के बाद 15 बार Salatut Tasbih पढ़े
  2. सूरेह फातिहा पढ़े साथ में दूसरी कोई भी सूरेह पढ़े
  3. सूरेह मिलाने के बाद 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  4. रुकू में जाए और 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  5. इसके बाद “सुबहाना रब्बियल अज़ीम” 3 बार पढ़े
  6. अब रुकू से उठ कर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  7. फिर अल्लाह हु अक्बर कह कर सजदे में चले जाए
  8. फिर सजदे में 3 बार कहे “सुब्हान रब्बि यल आला”
  9. फिर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े

तीसरी रकात Salatut Tasbih Namaaz ka Tarika in Hindi

  1. सूरेह फातिहा पढ़े साथ में दूसरी कोई भी सूरेह पढ़े
  2. सूरेह मिलाने के बाद 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  3. रुकू में जाए और 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  4. इसके बाद “सुबहाना रब्बियल अज़ीम” 3 बार पढ़े
  5. अब रुकू से उठ कर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  6. फिर अल्लाह हु अक्बर कह कर सजदे में चले जाए
  7. फिर सजदे में 3 बार कहे “सुब्हान रब्बि यल आला”
  8. फिर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े

चौथी रकात Salatut Tasbih Namaaz ka Tarika in Hindi

  1. रेह फातिहा पढ़े साथ में दूसरी कोई भी सूरेह पढ़े
  2. सूरेह मिलाने के बाद 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  3. रुकू में जाए और 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  4. इसके बाद “सुबहाना रब्बियल अज़ीम” 3 बार पढ़े
  5. अब रुकू से उठ कर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  6. फिर अल्लाह हु अक्बर कह कर सजदे में चले जाए
  7. फिर सजदे में 3 बार कहे “सुब्हान रब्बि यल आला”
  8. फिर 10 बार Salatut Tasbih पढ़े
  9. इसके बाद धीरे धीरे दरुदे इब्राहीम और दुआ ए मशुरा पढ़े
  10. फिर दाए बाएं सलाम फेरे
  11. सलाम फेरते समय “अस्सलामु अलैकुम वा रहमतुल्ला” दोनों बार कहे

Salatut Tasbih – सलातुत तस्बीह नमाज़ की कई फज़ीलतें हैं, जिनमें से कुछ यह हैं:

  • Salatut Tasbih की बरकत से अल्लाह के नज़दीक होने का एक ज़रिया
  • Salatut Tasbih की बरकत से तक़वा व परेज़गारी हासिल होती है
  • Salatut Tasbih की बरकत से दुआए क़ुबूल होती है
  • Salatut Tasbih की बरकत से अल्लाह हलाल रोज़ी अता करता है
  • Salatut Tasbih की बरकत से गुनाहे माफ़ होती है
  • Salatut Tasbih की बरकत से परेशानियों और मुसीबतों से राहत मिलती है

आज की इस पोस्ट में हमने Salatul Tasbeeh Namaz Ka Tarika के बारे में बहुत ही आसान ज़बान में पेश किया है. उम्मीद है की आपको हमारी यह पोस्ट (Salatul Tasbeeh Namaz Tarika) अच्छे से समझ आया होगा, हमारे इस पोस्ट को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें, ताकि और भी लोग इससे फायदा उठा सकें।

Also Read: 

Leave a Comment