Surah Alam Nashrah in hindi-सुरह अलम नशरह हिंदी में

Surah Alam Nashrah in hindi – सुरह अलम नशरह हिंदी में

आज हम Surah Alam Nashrah in hindi की पोस्ट में सूरेह अलम नशरह की फ़ज़ीलत को जानेगे। हमने बहुत ही साफ़ और आसान ज़बान में पेश किया है उम्मीद है की आपको हमारी Surah Alam Nashrah in hindi पोस्ट को पढ़ के मालूमात हासिल होगी। इसलिए इस पोस्ट को शुरू से आखिर तक गौर से पढ़िएगा।

सुरह अलम नशरह की फ़ज़ीलत-Surah Alam Nashrah Fazilat

  • यह एक छोटी सूरह है इसमें कुल 8 आयते है और एक रुकू है ।
  • यह सूरह पैग़म्बर मुहम्मद (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) को नबी होने की ख़ुशख़बरी देने के लिए नाज़िल हुई थी।
  • यह सूरेह मक्की है जो की मक्काः में नाज़िल हुई है

सुरह अलम नशरह इन हिंदी -Surah Alam Nashrah in hindi with तर्जुमा –

बिस्मिल्ला-हिर्रहमा-निर्रहीम

1 अलम नशरह लका सदरह
क्या हमने तुम्हारे लिए सीना नहीं खोल दिया

2. व वदअना अंका विज़रक
और तुम्हारे ऊपर से तुम्हाराे बोझ को उतार दिया

3. अल्लज़ी अन्क़दा ज़हरक
जिसने तुम्हारी कमर तोड़ राखी थी

4. व रफ़अना लका ज़िकरक
और हमने तुम्हारे लिए तुम्हारे तज़करे को बुलंद कर दिया

5. फ़ इन्ना मअल उसरि युसरा
हकीकत यही है की मुश्किलात के साथ आसानी भी है

6. इन्ना मअल उसरि युसरा
तो जब आप अपने कामो से फारिग हो जाए

7. फ़ इज़ा फरगता फंसब 
तो इबादत में मेहनत किया करे

8. व इला रब्बिका फरगब

और अपने रब से ही दिल लगाया करे

सुरह अलम नशरह पढ़ने की फ़ज़ीलत- Surah Alam Nashrah in hindi

  • सुरह अलम नशरह जो शख्स इसे कसरत से पढता है उसे अल्लाह ज़्यादा से ज़्यादा हिम्मत और ताकत देता है.
  • कोई शख्स गम में मुब्तिला है वो भी हर नमाज़ के बाद सुरह अलम नशरह को 7 मर्तबा पढ़े एक हफ्ते तक गम से निजात मिल जाएगी.
  • कोई शकस क़र्ज़ में घिरा हो तो वो भी फज्र के नमाज़ के बाद शुरू और आखिर में 11 मर्तबा दुरूद शरीफ के साथ 41 मर्तबा सुरह अलम नशरह की तिलावत करे.
  • सुरह अलम नशरह पढ़ने से मुश्किल से मुश्किल काम आसानी से हल हो जाता है.

सुरह अलम नशरह की एहम बाते-

  • यह एक छोटी सूरह है। यह सूरह पैग़म्बर मुहम्मद (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) को नबी होने की ख़ुशख़बरी देने के लिए नाज़िल हुई थी।
  • सुरह अलम नशरह पढ़ने से अल्लाह की रहमत और बरकत हासिल होती है।
  • सुरह अलम नशरह पढ़ने से फ़िक्र और तकलीफ से बचा जा सकता है
  • यह सूरह पढ़ने से दुनियावी सुकून और आख़िरत में आसानी हासिल करने में आसानी होती है

इसलिए, हमें चाहिए कि हम सुरह अलम नशरह को अपनी ज़िन्दगी में ज़्यादा से ज़्यादा पढ़ते रहे और अपनी गुनाहो की माफ़ी मांगते रहे। आज की इस पोस्ट में हमने सुरह अलम नशरह के बारे में बहुत ही आसान ज़बान में पेश किया है. उम्मीद है की आपको हमारी यह पोस्ट (Surah Alam Nashrah in hindi) अच्छे से समझ आया होगा, हमारे इस पोस्ट को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें, ताकि और भी लोग इससे फायदा उठा सकें।

Also Read: 

Leave a Comment