Surah Quraish in Hindi- सूरह कुरैश की तफ़्सीर

सूरह कुरैश की तफ़्सीर- Surah Quraish in Hindi

सूरह कुरैश एक बहुत ही मशहूर सूरेह है. अरब में एक बहुत ही मशहूर “कुरैश” नाम का कबीला है जहा से सूरह कुरैश नाजिल हुई है. यह सूरह मक्का में नाजिल हुई जहा हमारे नबी सल्लाल्हो वाले वस्सलम की पैदाइश हुई थी. कुरैश कबीला मक्का का सबसे ताकतवर कबीला कहा जाता था और उस वक़्त कारोबार का मरकज़ भी था और “कुरैश” कबीला के लोग काबा की देख भाल भी करते थे. इस पोस्ट में हमने Surah Quraish in hindi सूरह कुरैश हिंदी में बहुत ही खूबसूरत तरीके से पेश किया है उम्मीद है की आपको हमारी इस पोस्ट से पूरी जानकारी मिलेगी.

sureh quraish in hindi

सूरह कुरैश की एहम पॉइंट्स

  • सूरह कुरैश कुरआन की 106वीं सूरह है।
  • इसमें कुल 4 आयतें है.
  • यह मक्की सूरेह है
  • यह 30वे परे में मौजूद है

Sureh Quraish In Hindi- सूरेह क़ुरैश का तर्जुमा हिंदी में

बिस्मिल्लाहिर रेहमाने रहीम

ली ईलाफि कुरैश
चुकी कुरैश को जाड़े और गर्मी के सफर से मानूस कर दिया गया है

ईलाफहीम रिहतश शिताई वस् सैफ
तो उनको मानूस कर देने की वजह से

फ़ल यअबुदु रब्बा हाज़ल बैत
इस घर (काबा) के मालिक की इबादत करनी चाहिए

अल्लज़ी अत अ-महुम मिन जूअ व आमन हुम् मिन खौफ
जिसने उनको भूख में खाना दिया और उनको खौफ़ से अमन अता किया

Surah Quraish Rozi mein Barkat ki Dua

रोज़ी में बरकत के लिए कई दुआएं मौजूद हैं लेकिन इनमें से एक बहुत ही मशहूर दुआ सूरेह क़ुरैश है:

हर फ़र्ज़ नमाज़ के बाद इसे पढ़ना है.

1. एक बार दुरूद शरीफ पढ़े या तीन बार भी पढ़ सकते है.

2. इसके बाद 7 मर्तबा सूरेह क़ुरैश (जो 30 वे पारे में मौजूद है )

सूरह कुरैश अमल करने से रोज़ी में बरकत बढ़ जाती है

आज आप ने हमारी इस पोस्ट में (Surah Quraish in hindi) सूरह क़ुरैश के बारे में जाना कि सूरह क़ुरैश की तफ़्सीर क्या है ? और इसका नाम क़ुरैश क्यों रखा गया ? उम्मीद है की आपको ये आर्टिकल Surah Quraish In Hindi से फायदा पहुंचेगा। इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई भी सवाल आपके मन में हो आप पूछ सकते है.

Also Read: 

Leave a Comment