गणतंत्र दिवस पर निबंध – Essay on Republic Day in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध (Essay on Republic Day in Hindi) देने से पहले गणतंत्र दिवस भाषण को अच्छे से कैसे तैयार करें, इसकी जानकारी इस पोस्ट में दी गई है। इस पोस्ट से आपको न सिर्फ गणतंत्र दिवस पर निबंध (Essay on Republic Day in Hindi) लिखने में मदद मिलेगी, बल्कि निबंध को किस तरह से लिखे इसकी जानकारी मिलेगी। इसके लिए हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़े ।इस पोस्ट में हमने गणतंत्र दिवस समारोह के बारे में, गणतंत्र दिवस का इतिहास, हर नागरिक का दायित्व, गणतंत्र दिवस का जशन के बारे में detail से बात की है। उम्मीद है की आपको हमारी इस पोस्ट (Essay on 26 January in Hindi) से लाभ होगा।

Essay on Republic Day in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध (Essay on Republic Day in Hindi)

प्रस्तावना :

गणतंत्र दिवस हमारे देश का राष्ट्रीय पर्व है. इसे 26 जनवरी को मनाया जाता है। हमारे भारत देश में 3 राष्ट्रीय पर्व मनाए जाते है। पहला 26 जनवरी, दूसरा 15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस और तीसरा 2 अक्टूबर यानि गाँधी जयंती। यह तीनो भारत के राष्ट्रीय पर्व जिसे हर भारतवासी पूरे उत्साह, जोश और सम्मान के साथ मनाते है। इसी दिन 1950 को हमारे भारत देश का संविधान पूर्ण रूप से लागू हुआ था।इस दिन सभी स्कूल, कॉलेज, सरकारी दफ्तरो में भारत का झंडा लहरा के गणतंत्र दिवस मनाया जाता है।

गणतंत्र दिवस का जशन

गणतंत्र दिवस में हर जगह स्कूल,कॉलेजेस,सरकारी दफ्तरो में तरहा तरह के सांस्कृतिक कारिक्रम का आयोजन होता है। कोंई भारत माता का किरदार निभाता है तो कोई गाँधी बनता है, कोई सुभाष चाँद बोस तो कोई राष्ट्रीय गीत पे नित्य करता है। इन सब आयोजन के बीच शहीद हुए स्वतंत्रता सेनानी के ऊपर भाषड भी दिया जाता है। गणतंत्र दिवस पे कई जगह पेड़ लगाया जाता है ताकि यह निशानी रहे, कई जगह लेखन competition, पेंटिंग competition, रंगा रंग कारिक्रम का आयोजन होता है। राष्ट्र गान के साथ राष्ट्रधव्ज फैराया जाता है। कारिक्रम के बाद मिठाईया बाटी जाती है।

गणतंत्र दिवस समारोह (Essay on 26 January in Hindi)

गणतंत्र दिवस का आयोजन यूतो हर शहर हर गाओ में होता है। गणतंत्र दिवस के दिन हर जगह पुलिस फ़ोर्स लगाई जाती है। लेकिन सबसे बड़ा कारिक्रम देश के राजधानी दिल्ली में होती है।जगह जगह कड़ी पहरेदारी की जाती ताकि कोई भी आतंगवादी देश को हानी न पहुचा सके। गणतंत्र दिवस पर भारत के राष्ट्रपति लाल किला पर तिरंगा फहराते है। इसके बाद राष्ट्रगान गाया जाता है और 21 तोफों की सलामी दी जाती है। देश के राष्ट्रपति द्वारा वीर चक्र, महावीर चक्र, परमवीर चक्र, अशोक चक्र जैसे राष्ट्रीय सम्मान वितरित किए जाते है। वंदे मातरम, जय हिन्द, भारत माता की जय के देशभक्ति नारो से पुरे वातावरण गूंज उढ़ता है. गणतंत्र दिवस के महान अवसर पर राजधानी दिल्ली में विजय चौक से लेकर लाल किले तक होने वाली परेड एक प्रमुख केंद्र होती है जिसमे थलसेना, वायुसेना और नौसेना की शानदार परेड निकाली जाती है। परेड में देश के विभिन्न राज्यों की प्रदर्शनी होती है। हर प्रदर्शनी भारत की विविधता और सांस्कृतिक समृद्धि प्रदर्शित करती है। इसके साथ ही इस दिन किसी विशेष विदेशी अतिथि को आमंत्रित किया जाता है।

गणतंत्र दिवस पर देश अपने महा- नायकों को याद करता है। इस दिन स्कूलों और कॉलेजों में भी अनेक कार्यक्रम होते है। गणतंत्र दिवस भारत के गौरव और स्वाभिमान का दिवस है। इस दिन हर भारतवासी को अपने देश को शांतिपूर्ण और विकसित बनाने के लिए प्रतिज्ञा करनी चाहिए। गणतंत्र दिवस वाले दिन स्कूल और कॉलेजेस में तरह तरह के कारिक्रम आयोजित किए जाते है। जिसमे छोटे बच्चे से लेकर बड़े बच्चो तक सभी कारिक्रम में भाग लेते है। राष्ट्रीय गान (जन गन मन ) के नारो की गूंज गाओ से लेकर शहरों तक सुनाई देती है।

गणतंत्र दिवस का इतिहास

26 जनवरी का दिन सबके लिए खास दिन है। 15 अगस्त 1947 को भारत को ब्रिटिश शासन से आज़ादी मिली थी, उसके बाद भी हमारे देश में सविधान का भाव था। आज से 75 वर्ष पहले हमारा भारत गणतंत्र के रूप में स्थापित हुआ था। 26 जनवरी 1930 को रवि नदी के किनारे जवाहर लाल नेहरू ने राष्ट्रीय तिरंगे को फेहरा के भारत को आज़ाद घोषित कर दिया। और फिर 26 जनवरी 1950 को पूरी तरह से संविधान को स्वीकृति दी गई थी, जसके बाद देश को गणतंत्र घोषित किया गया।

हर नागरिक का दायित्व

गणतंत्र दिवस सिर्फ उत्सव मानाने का दिन नहीं, बल्कि इसे जुडी हमारे प्रति कुछ जिम्मेदारिया भी है। हमें हमारे संविधान के सिद्धांतों का सम्मान करना चाहिए, बुनियादी अधिकारों का इस्तेमाल करना चाहिए और ज़िम्मेदारियों को निभाना चाहिए। हमें मतदान के जरिए लोकतंत्र को मजबूत करना चाहिए, और अच्छी नियत से हर काम को करना चाहिए और राष्ट्र के विकास में ज़यादा से ज़्यादा अपना योगदान देना चाहिए।

पुरस्कारों का देना

गणतंत्र दिवस के खास मौके पर हमारे राष्ट्रीपति भारत वासियो को उनके पद के हिसाब से अलग अलग “पदम्” सम्मान से नवाज़ते है। जिसमे पद्मा विभूषण, भारत रत्न, पदम् श्री,वीर चक्र और पदम् भूषण होता है। “भारत रत्न ” सबसे पहला पुरस्कार। इसके बाद “पदम् विभूषण ” जो आम नागरिक को मिलता है। तीसरा है “पदम् भूषण” जिसे नागरिक सम्म्मान के लिए दिया जाता है। चउथा है “पदम् श्री” यह भी नागरिक सम्मान है।

निष्कर्ष : (Essay on Republic Day in Hindi)

आज हम पूरी आज़ादी और ख़ुशी के साथ गणतंत्र दिवस को मानते है। नित्य करते है,नारा लगते है, भाषण देते है लेकिन क्या हमंने कभी अपने बेह्तर कल के बारे में बात नहीं की है। हर नेता अपने भाषण में बड़े बड़े वादे करता है लेकिन हमारा भारत असल में तो भ्रष्ट्राचार्य, बेरोज़गारी, अशिक्षा, गरीबी से भरा हुआ है। जिसके बारे में हमारा जनता से जुड़े राजनेता इस जाल में फसते जा रहे है और समाधान ढूढ़ना भूल गए है। जिसको दूर करने के लिए आज के युवा पीढ़ी की ज़रुरत है।
जय हिन्द जय भारत !

26 जनवरी पर 10 लाइन का निबंध- (Essay on Republic Day in Hindi in 10 Lines)-

  1. गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है।
  2. यह हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है।
  3. 26 जनवरी 1950 को हमारा सविंधान लागु हुआ था।
  4. भारतीय सविधान के पिता के रूप में डॉक्टर बी. आर. अम्बेडकर को जाना जाता है।
  5. इस साल 2024 में हमारा देश अपना 75 व गणतंत्र दिवस मना रहा है।
  6. गणतंत्र दिवस भारत के हर कोने में मनाया जाता है।
  7. गणतंत्र दिवस के दिन सभी स्कूल और कॉलेजेस में राष्ट्रीय धवज फेरया जाता है।
  8. हम सभी झंडे को सलामी देके राष्ट्रीय गान गाते है।
  9. इस दिन कई तरहा के सांस्कृतिक कारिक्रम का आयोजन होता है।
  10. सभी लोगो में मिठाई और नमकीन बाटी जाती है।

गणतंत्र दिवस का संदेश क्या है ?

  • एक समान और न्यायपूर्ण समाज वही है जहा समानता और न्याय दोनों के मानकों को पूरा करता हो। गणतंत्र दिवस हमें इसी मूल्य को बताता है।
  • गणतंत्र दिवस राष्ट्रभक्ति का प्रतीक है। इस दिन एकता के संदेश को याद रख के संकल्प लेना चाहिए।
    गणतंत्र दिवस हमें आने वाले कल के लिए ज़िम्मेदारिया और प्रेरणा देता है। वो बताता है की हमें किस तरहा विकास के रस्ते पे चल कर चुनौतियों का सामना किया जा सकता है। हमें इसी संकल्प को बरक़रार रखना होगा और समृद्ध भारत का निर्माड करना होगा। तो आइए, इस गणतंत्र दिवस पर हम संकल्प लें हमे अपनी ज़िम्मेदारिया और सविधान के प्रति अपना कर्तव् निभाएगे जिससे भारत और आगे बढ़ सके।

हमने अपने गणतंत्र दिवस पर निबंध (Essay on Republic Day in hindi) इस पोस्ट में गणतंत्र दिवस के बारे में सारी जानकारी देने की कोशिश की है उम्मीद है की आपको हमारी इस् पोस्ट से फाएदा पहुंचेगा और जानकारी पाने के लिए हमें कमेंट करे।

अन्य निबंध :

होली पर निबंध हिंदी में एपीजे अब्दुल कलाम पर निबंध
मेरे प्रिय मित्र पर हिंदी में निबंध लोहड़ी पर निबंध
स्वामी विवेकानंद पर निबंध गाय पर निबंध हिंदी में

Leave a Comment