ईद उल फितर पर निबंध हिंदी में- Essay on Eid Ul Fitr in hindi

ईद-उल-फितर का त्योहार बहुत ही प्रसीद त्योहार है। ईद-उल-फितर मुस्लिम का सबसे बड़े त्योहार में से एक त्योहार माना जाता है। इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार इस्लाम में दो बार ईद मनाई जाती है। एक ईद उल फितर और दूसरा है बखरिद। ईद उल फ़ित्र रमजान के पुरे एक महीने बाद मनाया जाता है। इसे हर गरीब से गरीब और अमीर से अमीर इंसान इस त्योहार को बहुत ही खूबसूरती से मनाता है। हमारे इस पोस्ट में (Essay on Eid Ul Fitr in hindi) ईद त्योहार के बारे में सारी जानकारी दी गई है। जिसकी मदद से आप “ईद उल फितर” के विषय पर निबंध लिख सकते है। उम्मीद है की आपको हमारी इस पोस्ट (Eid Essay in hindi) से की जानकारी प्राप्त होगी।

Essay on Eid Ul Fitr in hindi
eid ul fitr par nibandh in hindi

ईद उल फितर पर निबंध हिंदी में- Essay on Eid Ul Fitr in hindi :

प्रस्तवना- खुशियों की सौगात, भाईचारे का संगीत :

ईद उल फितर खुशियों की सौगात लेके आती है, इस्लामिक कैलिन्डर के अनुसार दो तरह की ईद होती है एक मीठी ईद उल फितर के नाम से और दूसरी बखरीद जिसमे बकरे की क़ुरबानी की जाती है। ईद उल फितर पवित्र रमज़ान के पूरे तीस रोज़े के बाद चमकते हुए चाँद का दीदार करके मनाया जाता है। रिश्तेदारों की गले लगाने की गर्माहट का खास नज़ारा देखने को मिलता है। इसदिन हर घरो में मीठे पकवान बनते है जिसकी खशबू हर घर और आँगन में गूंजती है। इस दिन सेवइया बनती है जो इस दिन की खास पकवान में से एक है जिसे हर इंसान बहुत मज़े से खाता है। आइये देखे इस खूबसूरत त्योहार की रंगीन आँगन को और महसूस करे इस त्योहार की मिठास को।

ईद उल फितर का अर्थ क्या है? (eid al fitr meaning?)

ईद उल फितर खुशियों का त्योहार है। मुसलमानो के साथ साथ इसे हर धर्म के लोग मिल जल के मनाते है। ईद उल फितर को मीठी ईद भी कहा जाता है। क्युकी यह त्योहार रमज़ान के बाद रोज़ा ख़तम होने की ख़ुशी में मनाया जाता है। यह भी कहा की इस दिन मोहम्मद साहब ने बद्र की लड़ाई में जीत को हासिल किया था। इसकी ख़ुशी में भी ईद त्योहार का आगाज़ हुआ था।

ईद उल फितर का महत्व – माह-ए-रमजान की इबादत :

ईद का दिन बहुत ही खास दिन माना जाता है। माहे रमज़ान के पुरे एक महीने के बाद इसे मनाया जाता है। यह दिन पवित्र महीना रमजान की इबादत के अंत का प्रतिक है। रमजान का महीना बहुत ही पाक महीना माना जाता है। रमजान महीने में ही क़ुरान पाक जैसी किताब उतरी थी, और इस महीने में हर मुस्लमान सुबह से शाम तक रोज़ा (उपवास) रखते है।नमाज़ पढ़ते है, घर के मरदे मस्जिदों मे जाके तरावी पढ़ते है, ज़कात निकालते है, गरीबो और मिस्कीनों की मदद करते है, यही त्याग ईद के आने का पैगाम होती है। इस महीने में सारे पाप (गुनाह) धूल जाते है, और यही इबादत (प्राथना) हमें हमेशा सीधे रस्ते पे चलने के लिए याद दिलाता है।

तेहवारी का लिफाफा :

ईद का त्योहार हर किसी के लिए खुशिया लेके आता है, इस दिन हर बड़ा अपने छोटे को तेहवारी देता है। जिससे इस त्योहार की खूबसूरती का अंदाज़ा होता है। ईद पे सबसे ज़्यादा बच्चो के चेहरे खिल जाते है। यूतो छोटे बच्चे रोज़ा नहीं रखते लेकिन ईद का इंतज़ार उनको सबसे ज़्यादा होता है। इस लिए कहा जाता है की ईद तो बच्चो की ही होती है क्युकी इनके नए कपडे ज़रूर बनते है और इनको ही हर बड़ो से ईदी मिलती है। इस दिन हर बच्चा नए कपडे और जुते पहन के मस्जिद में अपने बड़ो के साथ ईदी के इंतेज़ार में खड़ा रहता है। ईद में हर सबको तोहफे भी मिलते है घर के काम करने वालो से लेकर हर बड़े छोटो को।
ईद के दिन इनके बड़े इनके सर पे हाथ रख के आशीर्वाद देते है, जोकि इनके रिश्तो को मज़बूत करता है और इनके प्यार को बढ़ता है।

सेवई की मिठास :

ईद पे सबके घरो में तरह तरह के मीठे पकवान बनते है। जैसे सेवइया इस त्योहार की खास डिश है। शीर खुरमा,खीर, जलेबी, हलवा जैसी स्वादिष्ट पकवान का तो क्या कहना। जिसकी मिठास हम सबको एक जुट करती है और प्यार बढ़ाती है। गले मिलके एक दूसरे को मुबारक बाद देना यह भी भाईचारे का संकेत होता है। जो हर जगह गूंजता है।

ईद के मुबारक़बाद का मैसेज -(Eid ul Fitr Eid mubarak wishes) :

रात को नया चाँद मुबारक
चाँद को नई चांदनी मुबारक
फलक को सितारे मुबारक
सितारों को बुलंदी मुबारक
और आपको ईद उल फितर मुबारक।

तमन्ना आपकी हो जाए पूरी
आपके मुकद्दर हो जाए रोशन
अमीन कहने से पहले ही
आपकी दुआए क़ुबूल हो जाए।
ईद उल फितर मुबारक

ईद का त्यौहार आया है
खुशिया अपने संग लाया है
खुदा ने दुनिया को महकाया है
देखिये फिर से ईद का त्योहार आया है।

दिए जलते है जगमगाते रहे
हम आपको इसी तरह याद आते रहे
जब तक ज़िन्दगी हैयहि दुआ है हमारी
आप ईद के चाँद की तरहा जगमगाते रहे।

ईद लेके आती है ढेर सारी खुशिया
ईद मिटा देती है इंसान में दूरिया
ईद है खुदा का एक नायब तब्बर्रूक
इस लिए हम भी कहते है आपको ईद मुबारक।

आगाज़ ईद है अंजाम ईद है
सचाई पे चलो तो हर बार ईद है
जिसने भी रखे पुरे रोज़े
उन सब के लिए इनाम ईद है।

ईद उल-फितर कब है? (2024 Eid ul Fitr Date) :

ईद का इंतज़ार सारी दुनिया में बहुत ही धूम धाम से होता है। रमजान महीने के आखिरी दिन के 29 तारीख से हर मुस्लमान अपनी छतो पे जाके ईद के चाँद का दीदार करना चाहता है। यह चाँद कभी कभी 29 को भी निकल अत है तो कभी 30 को निकलता है। लेकिन इस दिन हर इंसान मोबाइल और टी.वि में लगा रहता है और चाँद निकलने की खबर को जल्द से जल्द सुन्ना चाहता है। इस साल 2024 में चाँद के हिसाब से ईद उल फितर 10 अप्रैल, बुधवार को पड सकती है। जिसे 10 अप्रैल सुबह से सूर्यास्त तक तक मनाई जाएगी।

निष्कर्ष :

ईद उल फितर मुसलमानो का प्रमुख त्योहार है। इसदिन मिठाई के साथ साथ ख़ुशीया भी बाटी जाती है। इस दिन हर मुस्लमान नाहा धो कर नए कपडे पहनता है और इत्र लगा के मस्जिद में जाता है और अल्लाह् का शुक्र अदा करत है। ईद में हर एक मुस्लमान ज़कात देता है और गरीबो की मदद करता है। यह इस त्योहार की खास परम्परा है। यह त्योहार भाईचारे का सौगात लेके आता है। जिसे हर धर्म के लोग प्रतिष्ठा के साथ मानते है। जगह जगह ईद मिलन समारोह आयोजित किय जाता है, जिसमे हर धर्म के धर्मं गुरु, बड़े बड़े नेता, बिज़नेसमैन को आमंत्रित किया जाता है। हिंदुस्तान से लेकर हर देश में ईद उल फ़ित्र की धूम होती है, हम सब को ईद जैसे हर त्योहार को मिलके मानना चाहिए ताकि हम सब के अंदर प्यार और मोहब्बत की रौशनी जलती रहे।
ईद मुबारक !

ईद पे 10 लाइन का निबंध – Essay on Eid Ul Fitr in 10 Lines :

  1. ईद उल फ़ित्र मुसलमानो का सबसे बड़ा त्यौहार है
  2. ईद उल फ़ित्र रमजान महीने के बाद आता है।
  3. रमजान के महीने में हर मुसलमान रोज़ा रखता है।
  4. रोज़े में सुबह से सेहरी करते है और शाम होने पर अफ्तार करके रोज़ा खोलते है।
  5. ईद उल फ़ित्र का चाँद देखने के लिए सब इंतज़ार में होते है।
  6. ईद उल फ़ित्र पुरे दुनिया में बहुत धूम धाम से मनाया जाता है।
  7. ईद उल फ़ित्र में हर मुसल्मान नए कपडे बनवाता है।
  8. नए कपडे पहन के घर के मर्दे नमाज़ पढ़ने जाते है।
  9. ईद के दिन सभी लोग एक दूसरे से गले मिलते है।
  10. घरो में मीठी सेवइया बनती है और तरहा तरहा के पकवान बनते है।

आशा है कि आपको हमारी Essay on Eid Ul Fitr in Hindi पोस्ट पसंद आई होगी। इसी तरहा के कोट्स पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट http://preparationlab.com के साथ बने रहें।

अन्य निबंध :

होली पर निबंध हिंदी में प्रदूषण पर निबंध 
मेरे प्रिय मित्र पर हिंदी में निबंध लोहड़ी पर निबंध
गाय पर निबंध हिंदी में गणतंत्र दिवस पर निबंध
स्वामी विवेकानंद पर निबंध एपीजे अब्दुल कलाम पर निबंध

Leave a Comment